Home Haal-khayal पानी पीकर वजन घटाएं! | Water Fasting |

पानी पीकर वजन घटाएं! | Water Fasting |

0 comment

भाईसाब, क्या आप मोटापे से है परेशान, क्या आपको अपनी तोंद देखकर शर्म आती है, क्या आपने कई तरह के उपाय आजमा लिए हैं, फिर भी वजन घटाने में कामयाब नहीं हो पाए, तो चलिए हम आपको एक ऐसी जानकारी देने जा रहे हैं जिसे आजमा कर आप अपना वजन कम कर सकते हैं। तो भाईसाब, क्या आप विश्वास करेंगे कि पानी भी आपका वजन घटा सकता है, जी हां आज के इस लेख में हम पानी के जरिये कैसे वजन घटा सकते हैं इसकी चर्चा करेंगे, हम जानेंगे ‘वॉटर फास्टिंग’ के जरिये वजन कैसे आसानी से घटाया जा सकता है और अपनी काया को आकर्षक बनाया जा सकता है।
वॉटर फास्टिंग इन दिनों वजन घटाने के लिए काफी लोकप्रिय हो चुका है। वजन घटाने के इस सदियों पुराने तरीके को करने के लिए व्यक्ति को खाने से परहेज करना पड़ता और सिर्फ पानी पीना होता है। हालांकि, इसे करने के फायदे ही नहीं कुछ नुकसान भी हैं। तो भाईसाब, अगर आप भी इसे करने का विचार कर रहे हैं, और इसके फायदे से लेकर नुकसान के बारे में जानना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े और आखिरी में कमेंट अवश्य दें।

भाईसाब, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दुनियाभर में करोड़ों लोग बढ़ते वजन से परेशान हैं। ऐसे में अपने वजन को कम करने के लिए लोग कई उपाय अपनाते हैं। कुछ डाइटिंग करते हैं तो कुछ जिम में जमकर पसीना बहाते हैं। हालांकि कुछ लोग फास्टिंग के जरिए भी अपनी वजन कम करने की कोशिश करते हैं। वॉटर फास्टिंग इन्हीं में से एक है।
इन दिनों लोगों की लाइफस्टाइल में तेजी से बदलाव हो रहा है। लगातार बढ़ते वर्कप्रेशर की वजह से लोग अपना ज्यादातर समय अपने लैपटॉप और कंप्यूटर स्क्रीन के सामने बिता रहे हैं। ऐसे में लगातार सिटिंग वर्क करने की वजह से अक्सर लोग मोटापे का शिकार होने लगते हैं। मोटापा एक गंभीर समस्या है, जिससे दुनियाभर में कई लोग परेशान है। यह कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं की वजह बन सकता है। ऐसे में अपने वजन को कम करने के लिए लोग कई उपाय अपनाते हैं। फास्टिंग इन्हीं में से एक है। भाईसाब, ये भी जान लें कि वॉटर फास्टिंग में व्यक्ति कुछ भी नहीं खाता और सिर्फ पानी पीता है। लोग इसे कई कारणों से करते हैं, जिसमें वजन कम करना, आध्यात्मिक या धार्मिक कारण या विशेष स्वास्थ्य समस्याओं से राहत पाना आदि शामिल हैं। वॉटर फास्टिंग में एक विशेष समय सीमा के लिए आमतौर पर 24 से 72 घंटे तक सिर्फ पानी पीना रहता है। यह कुछ स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है, लेकिन भाईसाब इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं।

– इन दिनों वजन घटाने के लिए काफी लोकप्रिय हो चुका है
– आमतौर पर 24 से 72 घंटे तक सिर्फ पानी पीना रहता है
– पानी, बिना चीनी वाली ब्लैक कॉफी और चाय जैसे लिक्विड डाइट लेते हैं
– शरीर ईधन पैदा करने के लिए जमे हुए फैट का उपयोग करता है
– शरीर की पुरानी और खराब कोशिकाएं फिर से डेवलप हो जाती हैं
– मधुमेह कैंसर, दिल की समस्या, उच्च रक्तचाप से राहत
– कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद मिलती है

banner

वॉटर फास्टिंग यानी जल उपवास में खाना नहीं खाते हैं इसकी जगह पानी, बिना चीनी वाली ब्लैक कॉफी और चाय जैसे लिक्विड डाइट लेते हैं। इसके करने से क्रॉनिक बीमारियों का जोखिम भी कम होता है साथ ही शरीर के फेट को तोड़ने में भी हेल्प मिलती है। वॉटर फास्टिंग में आपके शरीर की पुरानी और खराब कोशिकाएं फिर से डेवलप हो जाती हैं। भाईसाब, आपको बता दें कि वॉटर फॉस्टिंग का समय 24 घंटे से लेकर 3 दिन तक का हो सकता है। साथ ही वॉटर फास्टिंग आपकी हेल्थ कंडीशन पर भी डिपेंड करता है। अगर आपको दिल, किडनी रोग, माइग्रेन, गाउट, टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज और प्रेग्नेंट महिलाओं को इसे नहीं करना चाहिए। भाईसाब, यदि आप पहली बार वॉटर फास्टिंग करने जा रहे हैं तो जान ले कि पहला जल उपवास आपको कम समय के लिए करना चाहिए। उपवास के तुरंत बाद भरपेट खाना नहीं खाना चाहिए। आपको थोड़ा-थोड़ा करके खाना चाहिए, और खूब सारा पानी पीना चाहिए। साथ ही उपवास के बाद ज्यादा हल्का खाना खाना चाहिए। अगर आपने जल उपवास के बाद भरपेट खा लिया तो आपको रिफीडिंग सिंड्रोम का खतरा हो सकता है। इस कंडीशन में बॉडी के द्रव और इलेक्ट्रोलाइट स्तरों में तेजी से बदलाव होता है। भाईसाब, इसके नुकसान के बारे में भी जान लीजिए, वॉटर फॉस्टिंग के दौरान सिर्फ लिक्विड डाइट लिया जाता है जिसमें बहुत कम कैलोरी होती है। अगर आपने इस दौरान कम पानी पिया तो बॉडी में डिहाइड्रेशन का खतरा बढ़ जाता है। इसके साथ ही फॉस्टिंग में मतली, सिरदर्द, कब्ज, चक्कर आना और लो ब्लड प्रेशर की दिक्कत हो सकती है।
भाईसाब, आपकी जानकारी के लिए ये बताना जरूरी है कि इस फास्टिंग का प्लान बनाने से पहले किसी विशेषज्ञ से सलाह जरूर लेनी चाहिए। यदि आप इसकी शुरूआत करने जा रहे हैं, तो 2 से 3 दिन तक कम भोजन करें। अध्ययनों के अनुसार, वॉटर फास्टिंग अगर सही तरीके से की जाए, तो आप हर दिन 0।9 किलो वजन कम करने में कामयाब हो सकते हैं। यदि आप 24-72 घंटे के लिए इस फास्टिंग को करने के दौरान आपको सिर्फ पानी पीना होगा। दिनभर में 2- 3 लीटर पानी पीना पर्याप्त है। जल उपवास शुरू करने से पहले अच्छी तरह से भोजन कर लें, ताकि आपको भूख न लगे। प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थ लेंगे तो ज्यादा फायदा होगा।
भाईसाब, आपको बता दें कि वॉटर फास्टिंग थोड़ा कठिन जरूर है, लेकिन इसके अच्छे परिणाम देखने को मिले हैं। इस उपवास के बाद लोगों के स्वास्थ्य और नितंबों में आश्चर्यजनक सुधार होता है। दरअसल, उपवास की स्थिति में शरीर में किसी भोजन का सेवन न करने के बाद कार्बोहाइड्रेट की मात्रा न के बराबर रहती है। इसकी अनुपस्थिति में शरीर ईधन पैदा करने के लिए जमे हुए फैट का उपयोग करता है। जिससे फैट पूरी तरह से कम हो जाता है। एक और तरीका है जिससे वॉटर फस्टिंग करने से वजन कम होता है, वो है ऑटोफैगी। ऑटोफैगी एक शारीरिक प्रक्रिया है। इसमें अक्सर विषाक्त कोशिकाओं को तोड़ दिया जाता है। ऑटोफैगी में कोशिकाएं खुद को खा जाती हैं। कई शोधों में इस बात का सबूत मिला है कि वॉटर फास्टिंग करने से मधुमेह कैंसर, दिल की समस्या, उच्च रक्तचाप और न्यूरोलॉजिकल समस्याओं से राहत मिलती है।
और ये भी जान लें कि वाटर फास्टिंग से कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। वाटर फास्टिंग का कोई हार्ड एंड फास्ट रूल नहीं है। इसे 24 घंटे तक किया जा सकता है। एक बार जब आप रूटीन बना लें तो उसके बाद आप हफ्ते में 2 से 3 दिन वॉटर फास्टिंग कर सकते हैं। लेकिन हां जिन लोगों की उम्र 18 साल से कम है उन्हें वाटर फास्टिंग नहीं करनी चाहिए। इसके अलावा जो लोग 60 या 70 साल से ऊपर हैं उन्हें भी वॉटर फास्टिंग नहीं करने की सलाह दी जाती है।
तो भाईसाब, आशा करते हैं यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी, ऐसे ही हेल्थ टिप्स के लिए जुड़े रहें भाईसाब के साथ, धन्यवाद!

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.