Home Latest भारतीय वायुसेना ने दिखाया दम | C-130J Super Hercules Aircraft

भारतीय वायुसेना ने दिखाया दम | C-130J Super Hercules Aircraft

0 comment
Super Hercules Aircraft

भाईसाब, क्या आपको पता है देश के लिए बहुत की गर्व का कार्य भारतीय वायुसेना ने किया है, आपको बताते हैं कि भारतीय वायुसेना के सुपर हरक्यूलिस विमान ने कारगिल हवाई पट्टी पर नाइट लैंडिंग की है जो अपने आप में बड़ा कारनामा है, जिसे देखकर भारत के पड़ोसी देश दंग रह गये हैं और उन्हें भारत की वायु शक्ति का भी एहसास हो गया है।

भाईसाब, आपको बताना जरूरी है कि भारतीय वायु सेना की उपलब्धियों में एक और बड़ा मील के पत्थर जुड़ गया। एयर फोर्स के सुपर हरक्यूलिस विमान IAF C-130 J ने कारगिल हवाई पट्टी पर रात के अंधेरे में सफल लैंडिंग की। यह मिशन चुनौतीपूर्ण वातावरण में भी भारतीय वायुसेना की बेजोड़ क्षमता को दिखाता है। भाईसाब, रात के वक्त सफल लैंडिंग का सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए भारतीय वायु सेना ने लिखा, पहली बार ‘IAF C-130 J’ विमान ने करगिल हवाई पट्टी पर नाइट लैंडिंग की है। रास्ते में इलाके को ढंकते हुए इस अभ्यास ने गरुड़ के ट्रेनिंग मिशन को भी पूरा किया है। यह परिवहन विमान पहली बार नियंत्रण रेखा यानी LOC के नजदीक ऊंचाई वाले ‘करगिल एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड’ पर रात में सफलतापूर्वक उतरा। इस विमान पर गरुड़ कमांडो सवार थे। भाईसाब, आपको बताना जरूरी है कि करगिल हवाई पट्टी लगभग 10,500 फुट की ऊंचाई पर स्थित है और ‘एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड’ सहित वास्तविक नियंत्रण रेखा से सटी लगभग सभी हवाई पट्टियों में बुनियादी ढांचे को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। भाईसाब, ये भी जान लें कि 10,500 फुट की ऊंचाई पर खराब मौसम और तेज हवाएं सबसे बड़ी चुनौती होती हैं। ऐसे में लैंडिंग के लिए उच्च स्तर की तकनीकी दक्षता की जरूरत होती है। गरुड़ कमांडो को सफलतापूर्वक कारगिल पहुंचाने से एयरफोर्स की लॉजिस्टिक क्षमता के अलावा जमीनी तैयारी का भी पता चलता है। इससे पता चलता है कि वायुसेना मुश्किल से मुश्किल हालात में भी अपने सैनिकों की तैनाती जल्द से जल्द कर सकती है। आपको बताना जरूरी है कि सुपर हरक्यूलिस विमान न केवल 20 टन तक सामरिक का सामान उठा सकता है बल्कि इसमें 80 सैनिक हथियारों के साथ उड़ भी सकते हैं। इससे पहले वायुसेना के पायलटों ने उत्तराखंड में धारासू में सुपर हरक्यूलिस विमान की सफल लैंडिंग कराई थी। धारासू 3000 फीट की ऊंचाई पर स्थित जगह है। भाईसाब, जरा इस विमान की खासियत पर भी एक नजर डालते हैं, आपको बता दें कि अमेरिका की लॉकहीड मार्टिन कंपनी द्वारा बनाया गया C-130 J सुपर हरक्यूलिस विमान एक ट्रांसपोर्ट विमान है, जो वायुसेना की 12वीं फ्लीट का हिस्सा है। इन्हें साल 2011 में वायुसेना में शामिल किया गया था। इसे लैंड करने के लिए ज्यादा रनवे की जरूरत नहीं होती, ये खराब मौसम में उड़ान भरने और लैंडिंग करने में सक्षम, इसे एक्सप्रेस वे पर भी लैंड कराया जा चुका है, इंफ्रारेड डिटेक्शन सेट से लैस होने के चलते यह विमान कम ऊंचाई पर भी उड़ सकता है और पूरी तरह से अंधेरे में भी नीचे उतर सकता है, प्रतिकूल वातावरण में उड़ान भरने के दौरान भी सुरक्षित रहने के लिए इसमें स्वसुरक्षा तंत्र लगाया गया है, इसमें उड़ान के दौरान ही ईंधन भरने की क्षमता के लिए भी उपकरण दिए गए हैं।

भाईसाब, आपको जानकारी देना जरूरी है कि पिछले साल नवंबर में भारतीय वायु सेना ने अपने 2 लॉकहीड मार्टिन C-130J-30 ‘सुपर हरक्यूलिस’ मिलिट्री ट्रांसपोर्ट विमानों को उत्तराखंड में अल्पविकसित हवाई पट्टी पर सफलतापूर्वक उतारा था। वहां एक निर्माणाधीन पहाड़ी सुरंग के अंदर कुछ श्रमिक फंसे हुए थे, जिन्हें बचाने में मदद के लिए इंजीनियरिंग इक्विपमेंट्स पहुंचाने की खातिर खराब मौसम में भी यह मिशन चलाया गया। यह कारनामा भी वायुसेना की बड़ी उपलब्धियों में से एक है।

banner

चलते-चलते, भाईसाब, ये भी जान लें कि पिछले महीने तमिलनाडु में टूडुकुडी जिले का श्रीवेकुंटम रेलवे स्टेशन बाढ़ में चपेट में था। यहां ट्रेन फंस गई थी, जिससे वायुसेना ने डेढ़ साल के बच्चे और उसकी गर्भवती मां सहित 4 लोगों को बचा लिया। वायुसेना के तीन विमानों को लगाया गया और यात्रियों के लिए खाने के पैकेट और पीने का पानी विमानों से गिराया गया।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.