Home Latest स्टालिन के बेटे ने हिंदू धर्म का किया अपमान, सनातन को बताया बीमारी ।

स्टालिन के बेटे ने हिंदू धर्म का किया अपमान, सनातन को बताया बीमारी ।

0 comment

उदयनिधि स्टालिन ने सनातन उन्मूलन सम्मेलन में बोलते हुए कहा था कि सनातन धर्म सामाजिक न्याय और समानता के खिलाफ है। कुछ चीजों का विरोध नहीं किया जा सकता, उन्हें ही खत्म किया जाना चाहिए। हम डेंगू, मच्छर, मलेरिया या कोरोना का विरोध नहीं कर सकते। हमें इसे खत्म करना होगा। खेल विकास मंत्री ने आगे कहा कि सनातन नाम संस्कृत का है। यह सामाजिक न्याय और समानता के खिलाफ है। सनातन धर्म को खत्म करने वाली टिप्पणी पर हिंदू महासभा के अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि ने उदयनिधि स्टालिन को आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि मंत्री को समझना चाहिए की सनातन धर्म कोई टॉफी या बताशा नहीं है, जो मुंह में डाला और गल जाएगा। सनातन धर्म सदियों से अस्तित्व में है और रहेगा। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्य की बात है कि जितने भी I.N.D.I.A गठबंधन से जुड़े लोग हैं वो पीएम मोदी की बजाय सनातन धर्म से लड़ रहे हैं। उनका उद्देश्य सनातन धर्म को खत्म करना है। उन्होंने कहा कि यह लड़ाई मोदी और इंडिया गठबंधन की नहीं है। यह लड़ाई अब विचारधाराओं और सुर-असुर की हो गई है। उन्होंने कहा कि मैं सुर-असुर की लड़ाई इसलिए बोल रहा हूं कि एक गठबंधन के लोग हैं, जो सावन में ही मांस खाना शुरू कर देते हैं। वहीं, एक है हिंदू सनातनी को बचाना चाहता है। हम कभी भी स्टालिन विचारधारा को निशाना नहीं बनाते हैं या ईसाई धर्म या इस्लाम पर टिप्पणी नहीं करते हैं, फिर वे ‘हिंदू सनातन’ को क्यों निशाना बना रहे हैं? इसके अलावा, भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने भी स्टालिन पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह किसी नरसंहार से कम नहीं है और इसे कांग्रेस पार्टी के कार्ति चिदंबरम ने समर्थन दिया है। यह गठबंधन की मानसिकता दिखाता है। उन्होंने कहा कि यह पहला विवादित बयान नहीं है, इससे पहले समाजवादी पार्टी ने कहा था कि सनातन धर्म धोखा है। वहीं, कांग्रेस पार्टी हमेशा से सनातन धर्म पर वार करता रहा है। उन्होंने कहा कि अब सवाल उठता है कि क्या यह ‘मोहब्बत की दुकान’ है या यह नफरत के भाईजान हैं? उन्होंने कहा कि यह ‘सनातन विरोध’ का लंबा पैटर्न है। ऐसे जुड़ेगा क्या भारत। तमिलनाडु के मंत्री उदयनिधि स्टालिन पर वीएचपी के केंद्रीय संयुक्त सचिव विजय शंकर तिवारी ने हमला करते हुए कहा कि लोगों को अपनी औपनिवेशिक मानसिकता से बाहर निकलना चाहिए। सनातन’ का मतलब है जो शाश्वत है। सनातन निरंतर विकसित हुआ है और अधिक बढ़ रहा है।वहीं, महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने कहा कि कांग्रेस का रुख स्पष्ट है, हम किसी भी धर्म पर टिप्पणी नहीं करना चाहते हैं या किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं चाहते हैं।
केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि वह बिना किसी प्रतिक्रिया की चिंता के सनातन धर्म, हिंदू धर्म पर टिप्पणी कर रहे हैं। क्योंकि उनका मानना है कि उनका पैसा, संपत्ति और वंशवादी स्थिति उन्हें ऐसी स्थिति में डाल देती है, जहां वह हजारों भारतीयों और तमिलनाडु के लोगों का अपमान कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह हमारा राष्ट्रीय मिशन होना चाहिए कि इस देश की राजनीति को ऐसे वंशवादियों से छुटकारा मिले जो केवल शोषण करते हैं और खुद को समृद्ध करते हैं। वे हमारे देश के करोड़ों हिंदुओं की आस्था का अपमान करते रहते हैं।उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि राजनीतिक नेताओं को धार्मिक टिप्पणी करने से बचना चाहिए। यह समाज में विद्वेष पैदा करने का एक असफल प्रयास है। मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।
केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि तमिलनाडु में कुछ लोगों की असलियत सामने आने लगी है। अभी कुछ दिन पहले हमने काशी-तमिल संगमम का आयोजन किया। तमिलनाडु के हर गांव में भगवान विश्वनाथ का स्मृति है। ‘सनातन’ शाश्वत है, इन राजनीतिक टिप्पणियों से कुछ नहीं होने वाला है।
राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास ने कहा कि सनातन धर्म को किसी भी कीमत पर खत्म नहीं किया जा सकता। ‘सनातन धर्म’ सदियों से अस्तित्व में है और रहेगा। वह (उदयनिधि स्टालिन) ‘सनातन धर्म’ का वास्तविक अर्थ नहीं समझते हैं, वह जो भी कह रहे हैं वह बिल्कुल गलत है।
भाजपा नेता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि स्टालिन I.N.D.I.A गठबंधन के मजबूत स्तंभ हैं और उनके बेटे सनातन धर्म की तुलना डेंगू और मलेरिया से कर रहे हैं, उसे खत्म करने की बात कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी और INDIA गठबंधन को अपनी राय स्पष्ट करनी चाहिए वे लोग इकट्ठे हो कर गठबंधन बना रहे हैं या सनातन धर्म को खत्म करने लिए इस प्रकार की बयानबाजी कर रहे हैं? ये बयान दुर्भाग्यपूर्ण है इसकी जितनी भी निंदा की जाए वो कम है। क्या गठबंधन उनके बयान से सहमत है इसका जवाब INDIA गठबंधन को देना चाहिए ।

ऐसेही और अपडेट्स के लिए जुड़े रहिये भाईसाब के साथ ।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.