Home Dhanda Pani विदेशी कंपनियों को शीर्षासन कराकर विदा करने वाले बाबा रामदेव! | Patanjali Group को बोलबाला

विदेशी कंपनियों को शीर्षासन कराकर विदा करने वाले बाबा रामदेव! | Patanjali Group को बोलबाला

0 comment

भाईसाब क्या आपको पता है, बाबा रामदेव की कंपनी Patanjali Group का टर्नओवर करीब 45 हजार करोड़ रुपये से भी अधिक है और दुनिया में करीब 200 करोड़ और भारत में 70 करोड़ लोगों तक कंपनी की पहुंच में हैं। हाल ही में उन्होंने कहा था कि हमने कई विदेशी कंपनियों को शीर्षासन कराकर भारतीय बाज़ार से विदा किया है। भाईसाब, आज के इस लेख में हम बाबा रामदेव और उनकी कंपनी Patanjali Foods Limited के बारे में अनसुने रहस्यों को उजागर करेंगे।

भाईसाब, क्या आपको पता है Patanjali Foods Limited का पहले नाम क्या था, चलिए हम आपको बताते हैं कि, Patanjali Foods Limited का नाम पहले Ruchi Soya Industries था और Patanjali के इसका अधिग्रहण करने के बाद Ruchi Soya का नाम बदलकर Patanjali Foods किया है। और Patanjali का नाम सामने आते ही हर किसी के जेहन में बाबा रामदेव की तस्‍वीर उतर आती है। भाईसाब, ज्‍यादातर लोगों को यही लगता है कि बाबा रामदेव ही Patanjali Foods Limited कंपनी के असली मालिक हैं, लेकिन वास्‍तविकता इससे इतर है। भाईसाब, आपकी जानकारी के ये जानना जरूरी है कि Patanjali की शुरुआत साल 2006 में हरिद्वार से हुई थी और योग गुरु बाबा रामदेव शुरुआत में इस कंपनी के सिर्फ Brand Promoter थे। कॉरपारेट मंत्रालय के अनुसार, कंपनी की 93 फीसदी से ज्‍यादा हिस्‍सेदारी Acharya Balkrishna के पास है, जो अभी Patanjali Ayurveda के MD, Chairman और CEO हैं। वहीं बाबा रामदेव की कुल संपत्ति करीब 20 हजार करोड़ रुपये है, जिसमें सबसे बड़ा हिस्‍सा Royalty के तौर पर आता है। बाबा रामदेव कंपनी के Branding Promoter हैं और कंपनी की मार्केटिंग के लिए योग गुरु के तौर पर अपने चेहरे का इस्‍तेमाल करते हैं। वहीं Balkrishna Suvedi, जिन्‍हें Acharya Balkrishna के नाम से जाना जाता है, उनके माता-पिता Nepal के रहने वाले थे और बाद में भारत आ गए थे। भाईसाब, हरियाणा के एक गुरुकुल में साल 1995 में Acharya Balkrishna की मुलाकात बाबा रामदेव से हुई थी। शुरुआत में उन्‍होंने दिव्‍य Pharmacy के नाम से कारोबार शुरू किया, जो बाद में Patanjali Brand बन गया। कंपनी में शीर्ष पदों पर भर्ती से लेकर मार्केटिंग और ब्रांडिंग तक सभी काम Acharya Balkrishna ही देखते हैं। करीब 40 हजार करोड़ रुपये के Patanjali Group के मालिक और CEO Acharya Balkrishna हैं। समूह के तहत वे करीब 34 कंपनियों और तीन ट्रस्‍ट की अगुवाई करते हैं। भाईसाब, आप ये भी जान लें कि बाबा रामदेव को गाड़ियों का काफी शौक है। योग गुरू को हाल ही में Mahindra XUV700 को चलाते हुए देखा गया है। हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में रामदेव अपने साथी के साथ नई कार में घूमते हुए दिखाई दे रहे थे। वह जिस XUV700 को चलाते हुए देखे गए हैं, उसमें Panoramic Sunroof दिखाई दे रहा था, इसका मतलब साफ है कि ये गाड़ी टॉप मॉडल है। उन्हें कुछ समय पहले Jaguar XJ l में देखा गया था। वहीं, भाईसाब Balkrishna के पास Land Rover, Range Rover luxury गाड़ी है। बाबा रामदेव एक उत्साही Biker रहे हैं। अब तो वह विशेष निजी विमानों से देश विदेश की यात्राएं भी करने का दावा करने लगे हैं।
भाईसाब, बाबा रामदेव ने योग के जरिये ही देश के विभिन्न दलों के नेताओं और फिर अन्ना आंदोलन के बाद भाजपा की सत्ता का हर संभव लाभ उठाते रहे हैं। लेकिन योग से अधिक कंपनियों के व्यापार से आर्थिक साम्राज्य भी बना रहे हैं। बाबा रामदेव ने दावा किया है कि Patanjali खुद Palm Oil का उत्पादन करेगा। इसकी खेती के लिए 40 से 50 हजार किसान Patanjali से जुड़ चुके हैं और आने वाले समय में किसानों की संख्या 5 लाख तक करनी है। ऐसे में Patanjali में Palm Oil का उत्पादन शुरू होने से 5 लाख किसानों को सीधे रोजगार मिल सकेगा। Assam, Telangana और Andhra Pradesh सहित 12 राज्यों में किसान Patanjali से जुड़कर Palm Oil की खेती कर रहे हैं। अभी बंजर जमीन समेत उस जमीन पर plantation हो रहा है, जो उपजाऊ नहीं है। इससे जंगल बढ़ेगा, पेड़ बढ़ेंगे, आक्सीनजन की मात्रा बढ़गी, बारिश ज्यादा होगी, जमीन उपजाऊ होगी और किसान की समृद्धि बढ़ेगी। पर्यावरण का नुकसान का सवाल ही नहीं है। खाद्य तेलों के आयात पर निर्भरता कम होगी। बाबा रामदेव ने कहा कि खाद्य तेलों में पतंजलि की ओर से सालाना दस लाख टन का प्रोडक्शन हो सकेगा। यह पांच साल का प्रोजेक्ट है।
भाईसाब, इससे साबित होता है कि बाबा रामदेव का अनाज, दूध की तरह खाद्य तेलों में भी देश को आत्मनिर्भर बनाने का अपना विजन है। उनका उद्देश्य 20 लाख एकड़ जमीन पर पाम प्लांटेशन का काम करना। वहीं अगले पांच साल में पतंजलि का टर्नओवर 1 लाख करोड़ तक करने का लक्ष्य रखा गया है, जो अभी Patanjali Group का टर्नओवर करीब 45 हजार करोड़ रुपये से भी अधिक है। एक लाख करोड़ रुपये कारोबार का लक्ष्य हासिल करने में group की कंपनी Patanjali Foods अहम भूमिका निभाएगी।
भाईसाब, हाल ही में बाबा रामदेव ने कहा था कि 10 साल पहले हम अल्हड़ थे। अब समझदार हो गए। उन बातों पर कम बोल रहा हूं, जिससे राजनीति में पंगा और दंगा हो। मेरा फोकस पतंजलि के माध्यम से समाज सेवा और लोगों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए रचनात्मक कार्यों पर है। आगे पतंजलि को देशभर में Ayush Wellness Center, Gurukul खोलने हैं। भाईसाब बताते चलें कि बाबा रामदेव ने योग के प्रचार-प्रसार के साथ न केवल सत्ता की राजनीति में प्रभाव बनाया बल्कि अब देशी और बहुराष्ट्रीय कंपनियों को चुनौती देते हुए दवाइयों के व्यापार से अपना आर्थिक साम्राज्य सा खड़ा कर लिया है।
तो भाईसाब, ये थी जानकारी रामदेव और उनकी कंपनी Patanjali Foods Limited के बारे में, आशा करते हैं कि यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी, ऐसे ही अन्य रोचक विषय की जानकारी के लिए जुड़े रहें भाईसाब के साथ, धन्यवाद!

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.