Home Latest लक्षद्वीप मोदी विजिट – क्या है संदेश! | Narendra Modi in Lakshadweep

लक्षद्वीप मोदी विजिट – क्या है संदेश! | Narendra Modi in Lakshadweep

0 comment
Narendra Modi in Lakshadweep

भाईसाब, क्या आपको पता अगर लक्षद्वीप भारत के दक्षिण-पश्चिम में अरब सागर में स्थित एक द्वीप समूह है। यह अरब सागर से करीब 30 हजार वर्ग मील तक फैला हुआ है, जो एक केंद्र शासित प्रदेश है। यह जगह केंद्र शासित प्रदेशों में सबसे छोटा माना गया है। लक्षद्वीप की राजधानी कवरत्ती है। आपको बता दें कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुस्लिम बहुल लक्षद्वीप के लोगों का दिल जीतने के प्रयास के तहत कहा कि यह द्वीपसमूह भले ही छोटा है लेकिन इसका हृदय विशाल है। तो भाईसाब आज के इस वीडियो में हम विशाल हृदय छाटे लक्षद्वीप की चर्चा करेंगे।

लक्षद्वीप की यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यहां प्रौद्योगिकी, ऊर्जा, जल संसाधन, स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र से जुड़ी 1,150 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। आपको हैरानी होगी कि, प्रधानमंत्री ने मलयालम में यहां के लोगों को ‘परिवारजनों’ कहकर संबोधित किया। मोदी ने कहा कि लक्षद्वीप का भौगोलिक क्षेत्र भले ही छोटा है लेकिन लोगों के दिल समुद्र की तरह गहरे हैं। उन्होंने स्वदेश दर्शन योजना के तहत लक्षद्वीप के लिए एक विशेष योजना विकसित करने की घोषणा की, जिसमें इसके अद्वितीय आकर्षणों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। उन्होंने कदमत और सुहेली द्वीपों पर दो ब्लू-फ्लैग समुद्र तटों और आगामी जल विला परियोजनाओं पर प्रकाश डाला। भाईसाब, आपको बता दें कि लक्षद्वीप एक शीर्ष क्रूज पर्यटन स्थल के रूप में उभर रहा है, जहां पांच साल पहले की तुलना में पर्यटकों की संख्या में पांच गुना वृद्धि हुई है। मोदी ने यहां कोच्चि-लक्षद्वीप पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर परियोजना का उद्घाटन किया जिससे अब लक्षद्वीप में इंटरनेट 100 गुना अधिक गति से उपलब्ध होगा। इससे द्वीपों में इंटरनेट सेवाओं, टेलीमेडिसिन, ई-गवर्नेंस, शिक्षा, डिजिटल बैंकिंग, मुद्रा उपयोग और साक्षरता में वृद्धि होगी। प्रधानमंत्री ने यहां कदमत में कम तापमान वाले थर्मल डी-सैलिनेशन संयंत्र का भी उद्घाटन किया, जो हर दिन 1।5 लाख लीटर स्वच्छ पेयजल का उत्पादन करेगा। उन्होंने पांच द्वीपों एंड्रोथ, चेतलाट, कदमत, अगाती और मिनिकॉय में पांच मॉडल आंगनवाड़ी केंद्रों के निर्माण की आधारशिला भी रखी। भाईसाब, लक्षद्वीप जाने के पीछे पीएम मोदी का मकसद मालदीव को भी मैसेज देना था। मोदी का मकसद भारतीय पर्यटकों की नजर में लक्षद्वीप को मालदीव के मुकाबले बेहतर साबित करना था। दूसरी तरफ भारत विरोधी रुख अख्तियार कर रहे मालदीव को भी यहां से कड़ा संदेश देना था। आपको बता दें कि मालदीव के नए राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू ने भारत को वहां से अपनी सेना हटाने का संदेश दिया है। मोदी की लक्षद्वीप यात्रा से वोकल फॉर लोकल मिशन को बढ़ावा देना था है। लक्षद्वीप से पीएम मोदी ने संदेश दिया कि यह सिर्फ एक द्वीप नहीं है, बल्कि परंपरा और खूबसूरती के मामले में भी यह काफी विशिष्ट है। वह इसे भी एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर विकसित करने की तरफ देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग भी एडवेंचर की तलाश में हैं, उनकी लिस्ट में लक्षद्वीप भी जरूर होना चाहिए। भाईसाब, मोदी की लक्षद्वीप यात्रा का जियो-पॉलिटिकल महत्व भी काफी है। पहली बात तो यात्रियों के बीच में मालदीव की प्रसिद्धि काफी ज्यादा है। अब लक्षद्वीप को एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर डेवलप करके इसे मालदीव से ज्यादा प्रसिद्धि दिलाने का मकसद है।

भाईसाब, आपको जानकर खुशी होगी लक्षद्वीप भारत में गूगल पर सर्च किया जाने वाला 9वां मोस्ट सर्च्ड वर्ड बन गया है। इसका कारण है, मोदी का लक्षद्वीप विजिट। प्रधानमंत्री के सोशल मीडिया अकाउंट से उनकी कुछ तस्वीरें साझा की गईं, जिनमें वे स्नॉर्कलिंग करते और लक्षद्वीप के बीच पर टहलते नजर आए। इन तस्वीरों को देखने के बाद अगर आप भी अपनी अगली ट्रिप के लिए लक्षद्वीप को अपनी ट्रेवल डेस्टिनेशन चुन सकते हैं। भाईसाब इस आइलैंड पर कवरत्ती, अगाती, कलपेनी, कदमत और मिनिकॉय द्वीपों पर जा सकते हैं और अनेक एक्टिविटीज का आनंद ले सकते हैं। आपको बता दें कि कवरत्ती द्वीप के बीच पर फैली सफेद रेत और खूबसूरत सन सेट का नजारा, देखते ही बनता है। वहीं अगाती द्वीप फूड लवर्स के लिए एक परफेक्ट स्पॉट है। इस जगह आप कई सी फूड से लेकर शाकाहारी खाने तक कई फूड ऑप्शन्स मिल सकते हैं। यह जगह स्नॉर्कलिंग के लिए सबसे बेस्ट मानी जाती है। इसके अलावा अगर आप कुछ समय शोर-गुल से दूर बिताना चाहते हैं, तो कलपेनी द्वीप आपके लिए बिल्कुल परफेक्ट है। यहां आप कई खास डिशेज के साथ-साथ, स्कूबा डाइविंग का आनंद भी ले सकते हैं। वहीं कदमत द्वीप काइट सर्फिंग, स्नॉर्कलिंग और डीप सी डाइविंग के लिए मशहूर है, वहीं यदि आप बोटिंग और वॉटर स्पोर्ट्स का मजा ले चाहते है तो मिनिकॉय द्वीप शानदार साबित होता।

banner

तो भाईसाब, चलते-चलते आपको जानकारी दे दें कि लक्षद्वीप, 36 द्वीपों के समूह, अपने सुंदर और सूरज-चुंबन वाले समुद्र तटों और हरे भरे परिदृश्य के लिए जाना जाता है। मलयालम और संस्कृत में लक्षद्वीप का अर्थ है ‘एक सौ हजार द्वीप’, भारत का सबसे छोटा संघ राज्यक्षेत्र लक्षद्वीप एक द्वीपसमूह है जिसमें 32 किलोमीटर के क्षेत्र वाले 36 द्वीप हैं।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.