Home Latest ‘मेरे झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे, राम आएंगे..’ | Magical bhajan of Ram

‘मेरे झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे, राम आएंगे..’ | Magical bhajan of Ram

0 comment
Magical bhajan of Ram

भाईसाब, क्या आपको पता है, इन दिनों एक भजन देश ही नहीं बल्कि दुनियाभर में सुना जा रहा है, हम आपको बताते हैं कि वो कौनसा गीत है जिसका जादू दुनियाभर के रामभक्तों में छाया हुआ है, चलिए आपकी उत्सुकता को खुलासा करते हैं कि इन दिनों… ‘मेरे झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे, राम आएंगे..’ हर किसी की जुबान पर है, लेकिन क्या आपको पता है, इसे किसने लिखा है…इसे किसने गाया है।

अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हो गई हैं और अब तक लाखों की संख्या में रामभक्त मंदिर के दर्शन कर चुके है, इस बीच एक भजन भी खूब वायरल हो रहा है, जिसे लोग पसंद कर रहे हैं, यह भजन है, ‘मेरे झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे, राम आएंगे। भाईसाब, इस भजन को पिछले दिनों पीएम नरेंद्र मोदी ने भी ट्विटर पर शेयर किया था और तारीफ की थी, मोदी ने लिखा था- श्रीराम लला के स्वागत में स्वाति मिश्रा का भक्ति से भरा यह भजन मंत्रमुग्ध करने वाला है।भाईसाब आपको जानकारी दे दें कि इस भजन को लोकप्रिय बनाने वाली स्वाति मिश्रा बिहार के छपरा जिले के माला गांव की रहने वाली हैं, भोजपुरी गाने और भजन वह लंबे समय से गाती रही हैं, फिलहाल वह मुंबई में रहती हैं, उनका यह भजन बेहद लोकप्रिय हुआ है और लोगों की जुबां पर चढ़ गया है, यही नहीं फेसबुक और इंस्टाग्राम की रील्स में भी यह छाया हुआ है। भाईसाब आपको जानकर हैरानी होगी कि अकेले यूट्यूब पर ही स्वाति मिश्रा के चैनल पर इस भजन को 45 मिलियन से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं,आपको बता दें कि इस भजन से पहले वह जय गणेश देवा, ओम जय अम्बे गौरी जैसे भजन चुकी हैं, उनका एक और भजन जो प्रेम गली में आए नहीं भी काफी चला था। भाईसाब, आपको बता दें कि इससे पहले भी स्वाति कई भोजपुरी और हिंदी गानों को अपनी आवाज दे चुकी है, लेकिन इतनी लोकप्रियता शायद ही किसी गीत को मिली हो, जितनी ‘राम आएंगे तो अंगना सजाऊंगी’ को मिल रही है… भाईसाब, यही नहीं पिछले कई सालों से वह छठ गीत भी गाती रही हैं,जो खासे लोकप्रिय हुए हैं, बीते करीब 5 सालों से वह संगीत की दुनिया में अपना करियर बनाने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन अब वह भोजपुरी इंडस्ट्री में एक बड़ा नाम हैं, छठ गीतों ने भी उन्हें अच्छी खासी लोकप्रियता दिलाई है। भाईसाब, लेकिन यह बात कम ही लोगों को पता है कि इस गाने के असली रचनाकार कौन हैं, तो हम आपको बताते हैं कि इस भजन को पालम वाले स्व- श्याम सुंदर शर्मा ने लिखा है, गायिका स्वाति मिश्रा ने भी खुद अपने यूट्यूब चैनल पर भजन की विस्तृत जानकारी साझा करते हुए लिखा था कि इस गाने के असली रचनाकार स्वर्गीय श्याम सुंदर शर्मा हैं और उनके शब्दों को संगीत में पिरोया था प्रेम भूषण महाराज ने, स्वाति ने बताया था कि उन्होंने जब पहली बार प्रेम भूषण महाराज का भजन सुना था तब उसे प्रभु राम को समर्पित करने का ख्याल आया था। भाईसाब, स्वाती मिश्रा ने बताया था कि विश्वास नहीं हुआ कि अचानक इतना लोग मुझे प्यार देंगे, सोच से कई गुना अधिक लोग भजन को सुन और देख रहे हैं। उन्होंने बताया आज भी लोग बेटी को घर से निकलकर कुछ करने के लिए आजादी नहीं देते हैं, लेकिन मैं खुशनसीब था कि घर वालों ने पूरा सहयोग किया, यही वजह की आज इस मुकाम तक पहुंच पाई हूं।

चलते-चलते भाईसाब, आपको जानकारी दे दें कि स्वाति मिश्रा सिर्फ बेहतरीन गायिका ही नहीं बल्कि तबला वादक भी हैं। उन्होंने 7 साल की उम्र में संगीत वाद्ययंत्र बजाना शुरू कर दिया था और वह रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल का हिस्सा भी रह चुकी है।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.