Home Haal-khayal लाल आँखें | Conjunctivitis

लाल आँखें | Conjunctivitis

0 comment

आँखे इंसान के लिए वरदान होती है, और अगर इसमें जरा सा भी झेप लग जाये या कोई संक्रमण हो जाये तो इंसान कराहने लगता है। इस मानसून के मौसम में भी ऐसा ही एक संक्रमण इंसान की आँखों को प्रभावित कर रहा है जिसे हम मेडिकल भाषा में कंजक्टीवाइट्स और आम भाषा में आँख आना बोलते हैं।

हाल ख्याल में हम जानेंगे आँखों के लाल होने और उनमे बेतहासा होने वाले जलन के बारेमें।

इस बारिश के मौसम में आँखों में जलन और आँखों का लाल होना आम बात हो गया हैं, जिसमे इंसान के आँखों के ऊपरी परत जिसे कंजक्टिवा कहते हैं उसमे सूजन आ जाती हैं।

banner

कंजक्टिवा एक पतला पारदर्शी फलक होता हैं जो आँखों के सफ़ेद भाग को कवर करता हैं, यह आँखों को नम रखने में भी मदद करता हैं और अगर इसे धूल, बारीक रेसों और गंदे हाथों के छूने से ना बचाया जाये तो संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता हैं
इस बीमारी का खतरा मानसून के मौसम में बढ़ जाता हैं क्योंकि बारिश के मौसम में इन्फेक्शन के चान्सेस बढ़ जाते हैं और गंदे पानी से या स्विमिंग पूल में संक्रमित व्यक्ति से संपर्क में आने पर यह संक्रमण आपको आसानी से लग जाता हैं। यह बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में आसानी से फैल सकता है इसलिए यह आँखों की समस्या बहुत आम हैं।

यह बीमारी होने पर आप-

जलन वाली आंखों में आई ड्रॉप्स का इस्तेमाल करें।
रूई को पानी में भिगोकर दिन में दो बार पलकों पर जमे हुए चिपचिपे आई डिस्चार्ज को साफ करें।
कॉन्टैक्ट लेंस का उपयोग तब तक बंद कर दें, जब तक कि आंखें पूरी तरह से ठीक ना हो जाएं।
आंखों को बिल्कुल भी रगड़ें नहीं, क्योंकि इससे लक्षण और गंभीर हो सकते हैं।
इन रख रखाव की मदद से आप बिना किसी उपचार के इस बीमारी से निजात पा सकते हैं लेकिन कुछ मामलो में अगर स्थिति गंभीर हैं तो आपको डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए।

अपने आँखों को स्वस्थ रखें और संक्रमित होने से बचाएं, जानकारी पसंद आई हो तो हमें Instagram, Twitter, Facebook पर फॉलो करें और हमरा YouTube चैनल सब्सक्राइब करना न भूलें।

धन्यवाद!

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.