Home Latest लोगों की जिंदगी तबाह कर रहे फटाफट लोन! | Instant Loan App |

लोगों की जिंदगी तबाह कर रहे फटाफट लोन! | Instant Loan App |

0 comment

भाईसाब…आज के समय में लोगों की जरूरतें हर दिन बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में उन जरूरतों को पूरा करने के लिए हर किसी को तुरंत लोन चाहिए। आज के समय में इंटरनेट पर बहुत से ऐसे ऐप हैं जो सस्ता लोन देने का वादा करते हैं और लोग बड़ी संख्या में इनसे कर्ज लेते भी हैं। इनमें से कुछ ऐप सही होते हैं तो कुछ गलत जो लोगों को लोन देने के नाम पर फ्रॉड का शिकार बनाते हैं। इंस्टेंट लोन देने के बाद ना जाने कितने ही ऐप्स ने तमाम लोगों की जिंदगी तबाह कर दी। इस तरह के कई फर्जी ऐप्स को चीनी इंडीविजुअल्स द्वारा ऑपरेट किया जा रहा है। इसके लिए स्कैमर्स लोगों को फटाफट लोन देने का लालच देते हैं। आज ऐसे ऐप्स की संख्या लगातार बढ़ रही है।
आज हम इस लेख के जरिये ऐसे लोन ऐप्स के बारे में जानेंगे जो लोगों को लोन देने का लालच देकर उनसे पैसे और डिटेल्स चुरा रहे हैं।

भाईसाब….चीनी लोन स्कैम में फंसकर कई लोगों की जिंदगी बर्बाद हो गई। इस तरह के फर्जी लोन ऐप्स को कई बार बैन किया जा चुका है, लेकिन ये नाम बदलकर वापस लौट आते हैं। साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने वॉर्निंग दी है कि चीनी स्कैमर्स आम भारतीय लोगों को फंसाने के लिए गैरकानूनी इंस्टेंट लोन ऐप का सहारा ले रहे हैं। ऐसे हजारों ऐप्स का जाल ऑनलाइन बिछा हुआ है। CloudSEK की रिपोर्ट के मुताबिक, ये स्कैमर्स गैरकानूनी लोन ऐप्स का इस्तेमाल कर रहे हैं। लोगों को फंसाने के लिए ये पर्याप्त लोन और आसान रि-पेमेंट के फर्जी वादे करते हैं। ये स्कैमर्स लोगों की पर्सनल डिटेल्स और फीस लेने के बाद गायब हो जा रहे हैं। रिपोर्ट में अलग-अलग चैनल के जरिए ऐसे 55 Android ऐप्स के बारे में पता चला है। रिसर्चर्स ने बताया है कि ऐसे फ्रॉड स्कीम चलाने वाले 15 पेमेंट गेटवे को चीन से ऑपरेट किया जा रहा है। चीनी इंडिविजुअल इन फर्जी पेमेंट गेटवे का इस्तेमाल सिर्फ भारत ही नहीं दूसरे देशों में भी लोगों को ठगने के लिए कर रहे हैं। इनका जाल इंडोनेशिया, मलेशिया, साउथ अफ्रिका, मेक्सिको, ब्राजील, तुर्की, वियतनाम, फिलीपींस और कोलंबिया जैसे देशों में भी फैला हुआ है। चीनी स्कैमर्स लोगों को फंसाने के लिए फर्जी इंस्टैंट लोन ऐप्स क्रिएट करते हैं। इन गैरकानूनी ऐप्स को प्रमोट किया जाता है। जब कोई यूजर इन ऐप्स को डाउनलोड करता है, तो ये उनकी पर्सनल डिटेल्स को चुराते हैं और प्रोसेसिंग फीस के नाम पर पेमेंट लेते हैं। पेमेंट के बाद ये स्कैमर गायब हो जाएंगे।
भाईसाब…स्कैमर्स आम लोगों को टार्गेट करते हैं, जिन्हें लोन के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती। अमूमन इन लोगों को छोटा लोन चाहिए होते हैं। ऐसे में आपको सबसे ज्यादा सावनधान अनजान इंस्टैंट लोन देने वाले ऐप्स से रहना चाहिए। ये ऐप्स लोन देने के नाम पर आपकी पर्सनल डिटेल्स जैसे- कॉन्टैक्ट, फोटो और वीडियो को चुरा लेते हैं। फिर ये यूजर्स को ब्लैकमेल करना शुरू कर देते हैं। कभी भी लोन लेने के लिए आपको एक ऑथेंटिक सोर्स का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा किसी ऐप को परमिशन देते हुए ध्यान देना चाहिए कि उसे आपके कॉन्टैक्ट्स और फोटोज का एक्सेस क्यों चाहिए। इस तरह के गैरकानूनी ऐप्स को पहले भी सरकार बैन कर चुकी है, लेकिन ये नाम बदलकर वापस आ जाते हैं। जिन लोगों को पैसों की जरूरत होती है, वो इनके जाल में अक्सर फंस जाते हैं। कई बार तो यूजर्स ने इन ऐप्स से परेशान होकर आत्महत्या तक कर ली है। दरअसल, ये ऐप्स आपके कॉन्टैक्ट और फोटोज को चुरा लेते हैं। फिर रिपेमेंट के लिए यूजर्स को ब्लैकमेल करना शुरू करते हैं। किसी स्थिति में अगर वक्त पर इन्हें पेमेंट नहीं मिलती है, तो ये यूजर के कॉन्टैक्ट्स को फोन करना शुरू कर देते हैं। यहां तक कि ये स्कैमर्स यूजर्स को उनकी अश्लील फोटोज वायरल करने की धमकी देते हैं।
भाईसाब….ये बताना जरूरी है कि चाइनीज लोन कंपनियां वसूली करने के लिए अपने यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर्स को हायर कर रही हैं। जिनसे फिर वो लोगों की न्यूड फोटो और वीडियो बनवाते हैं। इस काम को करने में AI इनकी मदद करता है। आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की मदद से लोगों की वीडियो और फोटो बनाना काफी आसान हो जाता है। इसके बाद लोन एप कंपनियां लोगों के रिश्तेदारों, दोस्तों, ऑफिस हर जगह ये फोटो भेजते हैं। साथ ही लोन लेने वाले व्यक्ति को भी ब्लैकमेल करते हैं, कि अगर उन्होंने पैसे नहीं दिए तो वो उनकी न्यूड फोटो किसी के साथ जोड़कर उन्हें बदनाम करेंगे।
भाईसाब….लोन देने वाले ऐप उगाही के लिए थर्ड पार्टी कॉल सेंटर का सहारा लेते हैं। बीबीसी इन्वेस्टिगेशन की हाल ही कि एक डाक्यूमेंट्री में कॉल सेंटर के अंदर की हकीकत को भी बेहद बारीकी से दिखाया गया है। इसके लिए कॉल सेंटर में काम कर चुके एक शख्स को अंडरकवर भेजा गया। करीब डेढ़ महीने तक उसने दो कॉल सेंटर्स में काम किया। इस दौरान वहां चल रही हलचल को रिकॉर्ड किया। पड़ताल में सामने आया कि कॉल सेंटर में काम करने वाले लोग पहले तो प्यार से बात करते हैं। लेकिन ऐसा दो से तीन बार ही होता है। उसके बाद ये लोग गाली-गलौज पर उतर आते हैं। बीबीसी की पड़ताल के मुताबिक, कॉल सेंटर वाले यहां तक कहते हैं कि अगर लोन नहीं चुका सकते तो अपनी बहन को बेच दो। घर बेच दो। जमीन बेच दो। बीबीसी का खुफिया कैमरा नोएडा के जिस कॉल सेंटर के पहुंचा था, वहां के एचआर मैनेजर विशाल चौरसिया लोन उगाही के लिए किसी भी हद तक जाने का जिक्र करते हैं।
तो…भाईसाब इंस्टेंट लोन लेने से पहले संभल जाएं….सबसे पहले यह ऐप डाउनलोड करने से पहले यह जांच करें कि यह कौन से बैंक से जुड़े हैं। इसके साथ नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी कौन सी है। गूगल पॉलिसी के मुताबिक किसी भी लोन ऐप के साथ अनिवार्य तौर पर कोई न कोई एनबीएफसी जरूर जुड़ा होना चाहिए। यदि ऐप से कोई बैंक नहीं जुड़ा हुआ है तो आपको सावधान रहने की जरूरत है। ऐप से लोन लेने से पहले यह पता करना चाहिए कि इसको कौन सी कंपनी चला रही है। किस कंपनी ने इसको तैयार किया है इसके साथ ही कंपनी का ट्रैक रिकॉर्ड भी चेक करना चाहिए। कंपनी की वेबसाइट, कांटेक्ट डिटेल, ऑफिस के पते की जांच करनी चाहिए। इसका ऑफिस भारत में है या नहीं और कहां पर है। भाईसाब।। बता दें कि लोन ऐप डाउनलोड करने से पहले उसकी रेटिंग और रिव्यू को जरूर पढ़ना चाहिए। ऐप स्टोर पर आपको इसके संबंध में सारी डिटेल मिल जाएगी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक रिपोर्ट में बताया है कि एंड्रायड यूजर पर चलने वाले अलग-अलग ऐप स्टोर पर करीब 600 अवैध लोन ऐप चल रहे हैं। पिछले साल दिल्ली पुलिस की विशेष यूनिट ने चीनी कनेक्शन वाले तत्काल लोन आवेदनों के विभिन्न मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया था और 22 लोगों को हवाला मार्ग से चीन को 500 करोड़ रुपये भेजने या क्रिप्टो-करेंसी में निवेश करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।
भाईसाब…एक बात हमेशा ध्यान रखना चाहिए की फर्जी ऐप यूजर से कई तरह की जानकारी मांगते हैं। इससे पर्सनल डेटा लीक होने का खतरा भी बढ़ जाता है। जबकि अच्छा ऐप ज्यादा जानकारी नहीं मांगते हैं, क्योंकि जो उसको जरूरी जानकारी ही चाहिए जैसे मोबाइल, बैंक खाता, जन्मतिथि और नाम आदि। आप इस तरह के बातों को ध्यान में रखकर फर्जी ऐप से बच सकते हैं।
तो भाईसाब…आप खुद समझदार हैं… फटाफट लोन के चक्कर में नहीं फंसें…आशा करते हैं यह जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी, ऐसी ही जानकारी के लिए जुड़े रहें भाईसाब के साथ धन्यवाद!

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.