Home Dhanda Pani पश्चिम एशिया में भारतीय श्रमिक ज्यादा | Indian Workers Transforming West Asia

पश्चिम एशिया में भारतीय श्रमिक ज्यादा | Indian Workers Transforming West Asia

0 comment
Indian Workers Transforming West Asia

भाईसाब, क्या आपको पता है पश्चिम एशियाई देशों में निर्माण उद्योग में काम करने वाले भारत के ज्यादातर श्रमिक या मजदूर उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और तमिलनाडु से हैं, पश्चिम एशिया में निर्माण उद्योग में काम करने वाले भारत के ये श्रमिक 20-40 वर्ष आयु वर्ग के हैं और ज्यादातर पुरुष हैं. पश्चिम एशिया में निर्माण श्रमिकों की मांग सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, कतर, कुवैत और ओमान तक फैली हुई है, जिससे दुनियाभर से कुशल श्रमिकों के लिए व्यापक अवसर तैयार हो रहे हैं. दुनिया में श्रम शक्ति के लिहाज से भारत और चीन कड़े प्रतिद्वंदी रहे हैं. कुछ समय पहले तक चीनी श्रमिक भारतीय श्रमिकों सहित दुनिया के सभी श्रमिकों के लिए चुनौती बने हुए थे. वे कठोर परिश्रम करने वाले माने जाते हैं चीनी श्रमशक्ति अब भी भारतीय श्रम शक्ति से बेहतर मानी जाती है. लेकिन अंतरारष्ट्रीय स्तर पर, खासकर पश्चिमी देश चीन को अब तरजीह देना बंद रह हैं ऐसे में एशिया के कई देशों में चीनियों की जगह भारतीयों को तरजीह मिल रही है. वहीं जब हमास पर इजराइल ने हमला किया तो वहां के बदले हुए हालात की वजह से अचानक निर्माण क्षेत्र में कार्यबल की खासी कमी हो गई जिसके बाद वहां निर्माण क्षेत्र में भारतीय कामगारों की मांग बढ़ गई है, भारी संख्या में भारतीय मजदूरों को वहां बुलाने को कहा जा रहा है. लेकिन इसके बाद अब ताइवान भी ऐसे प्रायस कर रहा है जिससे भारतीय कामगारों को वहां काम करने में परेशानी ना हो.

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.