Home Safarnama राजधानी दिल्ली के दिल की जीवन रेखा, दिल्ली मेट्रो।

राजधानी दिल्ली के दिल की जीवन रेखा, दिल्ली मेट्रो।

0 comment

आज जानते है दिल्ली मेट्रो के बारे में ,
दिल्ली मेट्रो का निर्माण कार्य वर्ष 2002 PPP मॉडल से शुरू किया गया था और इसके निर्माण में सबसे महत्वपूर्ण कार्य मेट्रो मैन यानि ‘ई श्रीधरन’ जी का है। PPP मॉडल को आसान भाषा में समजते है , इसका मतलब होता है पब्लिक द्वारा संस्था को हुई आमदनी से उसके आगे की रूप रेखा तैयार की जाती है , इस मॉडल को दिल्ली के लोगो ने पूरा सपोर्ट किया ।

दिल्ली मेट्रो की कुछ अद्वितीय चीज़े :
मेट्रो स्टेशन्स या प्लेटफॉर्म्स पर कोई भी कूड़ेदान नहीं हैं। आपको दिल्ली मेट्रो के अंदर प्लेटफॉर्म्स में कोई भी कूड़ेदान देखने को नहीं मिलेंगे। क्योकि खान पान के लिए दिल्ली मेट्रो परिसर में अनुमति नहीं है।
स्टेशन्स के स्वचालित सीढ़ियों में ‘साड़ी गार्ड’ विशेषता है। मतलब आपके कपड़े या साड़ी एस्केलेटर में नहीं फसेंग।
दिल्ली मेट्रो की नीली रेखा के कुछ स्टेशन्स पर पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए जल संरक्षण जैसी योजना को भी लागु किया गया है। दिल्ली मेट्रो में घोषणा करने वाली महिला की आवाज़ मिस रिनी सिमोन खन्ना की है और पुरुष की आवाज़ मिस्टर शम्मी नारंग की है। दिल्ली मेट्रो में हमेशा सम संख्या 6 या 8 कोच होते हैं।दिल्ली मेट्रो की सबसे पहली लाइन 2006 में पूरी हुयी ।
दिल्ली मेट्रो में विकलांगो के लिए सुविधाएं :
मेट्रो प्लेटफॉर्म्स को इस तरह से बनाया गया है कि नेत्रहिन व्यक्ति बिना किसी की मदद लिए मेट्रो में सफर कर सकते हैं। प्लेटफार्म पर दिखने वाली पीली रेखाओं को उनके ही सहारे के लिए बनाया गया है। शारीरिक विकलांग व्यक्ति जो व्हील चेयर का इस्तेमाल करते हैं उनके लिए सीढ़ी के साथ ही और लिफ्ट में भी सुविधाएँ उपलब्ध हैं, जिनकी मदद से वे आराम से मेट्रो की यात्रा कर सकते हैं। साल 2014 में दिल्ली मेट्रो को बेस्ट मेट्रो सुविधा प्रदान करने के लिए पुरे विश्व में दूसरा स्थान मिला था। यात्रा के साथ भी, यात्रा के बाद भी, उपदेश के साथ दिल्ली मेट्रो में मेट्रो यात्रा के बाद स्टेशन के नीचे ही साइकिल सवारी की सुविधा भी उपलब्ध है।
दिल्ली मेट्रो के सवारी के दौरान मेट्रो की लाइट्स, ए.सी सब बंद हो जाते हैं ,यह पावर शिफ्ट के वजह से होता है , जो डी.एम.आर.सी द्वारा ही किया जाता है।दिल्ली मेट्रो नेटवर्क में लगभग 200 ट्रेन्स हैं, जो रोज़ाना लगभग 69000 किलोमीटर की दूरी तय करते हैं। और आपको आपके गंतव्य तक बहुत आसानी से पहुंचाते है। दिल्ली मेट्रो का चावड़ी बाजार स्टेशन दिल्ली में जमीन के अंदर स्थित सबसे गहरा मेट्रो स्टेशन है।

ऐसेही रोचक जानकारी के लिए जुड़े रहिये भाईसाब के साथ।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.