Home Latest आकाश में होंगी रोमांचक घटनाएं | Comets, Supermoon, and Meteor!

आकाश में होंगी रोमांचक घटनाएं | Comets, Supermoon, and Meteor!

0 comment
Comets, Supermoon, and Meteor

भाईसाब, आपको बहुत ही हैरान कर देने वाली जानकारी दे दें कि इस साल हम दक्षिणी आकाश में रोमांचक घटनाएं देखेंगे, जैसे- उल्कापात, चंद्रमा द्वारा ढका हुआ शनि, चमकीले ग्रहों का एक-दूसरे के करीब आना, सुपरमून और, अगर हम भाग्यशाली हैं, तो आंखों से दिखाई देने वाला धूमकेतु के भी दर्शन होंगे, भाईसाब, यह वर्ष खगोलीय घटनाओं की दृष्टि से बहुत रोमांचक रहने वाला है, इस वर्ष सूर्य और चंद्र ग्रहण के साथ साथ उल्का की बौछार जैसी घटनाएं होने वाली है, चंद्र ग्रहण और पूर्ण सूर्य ग्रहण के हम साक्षी बनेंगे। भले ही आप प्रकाश प्रदूषण से घिरे शहर में रहते हों, लेकिन ये सब खगोलीय घटनाएं देखने लायक होंगी।

आपको बता दें कि आने वाले मई के महीने में दक्षिणी गोलार्ध में उल्कापातों की बौछार होगी, आपको बता दें कि उल्कापिंड उल्कापातों से ही उत्पन्न होते हैं, उल्कापिंड छोटे कण होते हैं जो पृथ्वी के वायुमंडल से टकराते हैं और जलते ही प्रकाश की एक लकीर बनाते हैं, उल्कापात तब होता है जब कई कण टकराते हैं, सभी एक ही दिशा से आते हैं, वे आम तौर पर पृथ्वी के धूमकेतु द्वारा छोड़ी गई धूल की धारा से गुजरने के कारण होते हैं। 6 और 7 मई की सुबह आकाश में उल्कापातों देखने का अच्छा अवसर मिलेगा, क्योंकि चंद्रमा आकाश में चमक नहीं रहा होगा, खगोल वैज्ञानिकों का अनुमान है कि हर घंटे करीब 80 उल्कापिंड की बारिश होगी। अगर ये प्रक्रिया चरम पर पहुंचती है तो ये आंकड़ा हर घंटे 200 के पार चला जाएगा। भाईसाब, एक और शानदार घटना सुदूर आकाश में घटित होगी, वो घटना शुक्र ग्रह से संबंधित होगी, आपको बता दें कि मार्च, जून और अगस्त के महीने में आकाश में एक दूसरे के पास आने वाली खगोलीय वस्तुएं एक अच्छा दृश्य प्रदान कर सकती हैं, 22 मार्च की शाम को सबसे चमकीला ग्रह शुक्र, वलय वाले ग्रह शनि से दूर चंद्रमा के आकार से छोटा होगा और पूर्व दिशा में नीचे की ओर दिखाई देगा, बता दें कि 27 जून की रात को पूर्वी आकाश में चंद्रमा, शनि ग्रह को नीचे से ढंक लेगा, घटना को आंखों से देखा जा सकता है, लेकिन दूरबीन या छोटी दूरबीन से मदद मिलेगी, इस घटना के चित्र या वीडियो लेना सुरक्षित है, शनि ग्रह, चंद्रमा के चमकीले किनारे पर गायब हो जाएगा और कुछ घंटों बाद अपने अंधेरे किनारे पर फिर से प्रकट होगा। इसके अलावा एक और करीबी नजारा 15 अगस्त की सुबह का होगा, जब लाल ग्रह मंगल, विशाल ग्रह बृहस्पति से चंद्रमा की चौड़ाई से भी कम होगा। भाईसाब, वहीं सितंबर और अक्टूबर के महीने में हमे सुपरमून के भी दर्शन होंगे, 2024 के दौरान दो सुपरमून होंगे, बता दें कि सुपरमून, चंद्रमा का एक पथ है जो इसे कभी पृथ्वी से दूर और कभी करीब ले जाता है, सुपरमून के दिन चांद का आकार नहीं बदलता है बल्कि वह धरती के करीब आ जाता है। इस वक्त चांद 14% ज्यादा बड़ा और 30% अधिक चमकदार नजर आता है, 2024 में सुपरमून 18 सितंबर और 17 अक्टूबर को है। भाईसाब अक्टूबर में ही धूमकेतु ‘C-2023 A3’ के दर्शन होंगे, आंखों से दिखाई देने वाले धूमकेतु दुर्लभ और रोमांचक घटनाएं हैं। जनवरी 2023 में खोजा गया धूमकेतु ‘C-2023 A3’ सूर्य और पृथ्वी के करीब आ रहा है, और इतना चमकीला हो सकता है कि आसानी से देखा जा सके, आपको बता दें कि धूमकेतु बेहद चंचल होते हैं, 7 करोड़ 10 लाख किलोमीटर की दूरी पर, धूमकेतु 13 अक्टूबर को पृथ्वी के सबसे करीब होगा, हालांकि, इस दौरान अगले 6 दिनों तक एक चमकदार चंद्रमा के दिखाई देने की संभावना नहीं होगी। भाईसाब, मई के महीने में स्कॉर्पियस तारामंडल दिखाई देगा, बता दें स्कॉर्पियस चमकीले तारों की एक घुमावदार रेखा वाला एक शानदार तारामंडल है, जिसमें एक लाल सितारा प्राणी के दिल का निर्माण करता है। भाईसाब, आपको जानकारी देना जरूरी है कि साल 2024 का पहला ग्रहण चंद्र ग्रहण 25 मार्च को लगेगा, ये भारत में दिखाई नहीं देगा, यह पूर्व एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, उत्तर और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा, वहीं वर्ष 2024 का पहला सूर्य ग्रहण 8 अप्रैल को लगेगा, यह भारत में दिखाई नहीं दिखेगा और सूतक भी मान्य नहीं होगा, वहीं 11 से 13 अगस्त के बीच पर्सीड उल्का बौछार होगा, इस बार आसमान में लगभग 50 उल्का नजर आ सकते हैं।

चलते-चलते एक और बात जान लें कि वर्ष 2024 का दूसरा चंद्र ग्रहण 18 सितंबर को लगेगा। यह आंशिक चंद्र ग्रहण होगा और भारत में नहीं दिखाई देगा। वहीं वर्ष 2024 का दूसरा सूर्य ग्रहण 2 अक्टूबर को लगेगा। यह पूर्ण सूर्य ग्रहण है पर भारत में दिखाई नहीं देगा। यह अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, अर्जेंटीना और अटलांटिक महासागर में देखा जा सकेगा, इसके अलावा वर्ष 2024 के दिसंबर महीने में 13 और 14 तारीख को जेमिसीड उल्का बौछार होगी और पूरी रात चलेगा, हर घंटे लगभग 75 उल्काएं दिखाई देंगी।

banner

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.