Home Gali Nukkad देश को हिला देने वाली घटना | Champa Vishwas Rape Case

देश को हिला देने वाली घटना | Champa Vishwas Rape Case

0 comment
Champa Vishwas Rape Case

भाईसाब, क्या आप जानते हैं, साल 1995 में बिहार में एक झकझोर देने वाली घटना हुई, जिसने पूरे देश को हिला कर रख दिया था, आज की नई पीढ़ी के लिए ये जानना बहुत जरूरी है कि बिहार में 1990 से 2005 तक के दौर को जंगलराज कहा जाता था, इस दौर में हत्याएं अपहरण और रेप इतने आम थे कि ऐसी घटनाओं को लोगों ने खबर मानना भी छोड़ दिया था, सत्ताधारी पार्टी के नेता ही गुंडे थे और उनके द्वारा यौन शोषण और हत्या की वारदातों को अंजाम दिया जाता था, लेकिन इसके बाद भी उन पर कोई कार्रवाई नहीं होती थी, ऐसी ही उस दौर की दिल को झकझोर देने वाली घटना चंपा विश्वास कांड की है, जिसमें एक IAS की पत्नी के साथ 2 साल तक रेप होता रहा और वो चाहते हुए भी कुछ नहीं कर सका, आज के इस विडियो में चंपा विश्वास कांड पर चर्चा करेंगे, जिसने केवल बिहार को ही नहीं, बल्कि पूरे भारत को हिला कर रख दिया था, जिसे सुनकर आपके मन में भी सवाल उठेंगे कि पुलिसिया तंत्र भी उस दौर में बिहार में राज करने वाले नेताओं का कठपुतली बन कर रह गया था, इस वीडियो को End तर जरूर देखें।

नमस्कार भाईसाब, मैं बताना चाहूंगा कि, नेताओं के बाद अगर सरकार में किसी की सबसे ज्यादा चलती है तो वो हैं ब्यूरोक्रेट्स यानी नौकरशाह, कई बार तो उनकी भूमिका नेताओं से भी बढ़ कर होती है क्योंकि योजनाओं के लागू करने का जिम्मा उनके पास ही होता है, लेकिन, बिहार में जंगलराज का जो दौर था, उसमें IAS अधिकारी तक सुरक्षित नहीं थे, ऐसे ही एक अधिकारी की पत्नी थीं चम्पा विश्वास, जिनके साथ बार-बार रेप होता रहा और वह ताकतवर IAS की पत्नी होने के बावजूद सबकुछ असहाय होकर सहती है। भाईसाब, 1982 बैच के IAS अधिकारी बीबी विश्वास ने आरोप लगाया था कि 27 साल के मृत्युंजय यादव ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर न सिर्फ उनकी पत्नी का, बल्कि उनकी माँ, दो मेड्स और भतीजी तक के साथ रेप किया, उसने इसके लिए धमकी, लालच, जोर-जबरदस्ती और हिंसा, सभी का सहारा लिया, तब चम्पा विश्वास 30 साल की थीं, बता दें कि चम्पा विश्वास को 1 बार Abortion भी कराना पड़ा, अंत में उन्होंने अपना नसबंदी ही करवा लिया था, कई बार बलात्कार किए जाने के कारण बार-बार गर्भवती होने से बचने के लिए उन्हें ये क़दम उठाने पड़े थे, तब उन्होंने ये भी अंदेशा जताया था कि उनकी भतीजी कल्याणी और दो मेड सर्वेन्ट्स, जो गायब हो गई थीं, उनकी हत्या भी की गई हो सकती है, भाईसाब, मामला लाइमलाइट में तब आया जब पीड़िता ने बिहार के तत्कालीन राज्यपाल सुन्दर सिंह भंडारी को पत्र लिख कर न्याय की गुहार लगाई, राज्यपाल ने मामले का संज्ञान लेते हुए गृह मंत्रालय को इस मामले को देखने की सिफारिश की थी, साथ ही राज्यपाल ने बिहार के तत्कालीन डीजीपी को भी इसकी जांच करने के आदेश दिए।

भाईसाब, अब बताते हैं कि कहानी शुरुआत कैसी हुई, बीबी विश्वास का परिवार पटना के बेली रोड में स्थित सरकारी क्वार्टर में रहता था, चम्पा ने अपनी शिकायत में कहा था कि उनके बगल के क्वार्टर में रहने वाले अधिकारी और उनकी पत्नी उन्हें बुला कर अपने फ्लैट में लेकर गए, जहां मृत्युंजय और हेमलता पहले से ही बैठे हुए थे, वहां उन लोगों ने चम्पा को मृत्युंजय के साथ अकेले कमरे में बंद कर दिया, जहां उसने उनका रेप किया, आरोप है कि इसके बाद हेमलता ने उन्हें धमकाया कि इस घटना के बारे में किसी को भी पता चला तो उनके परिवार के सदस्यों की हत्या कर दी जाएगी और उनके आपत्तिजनक फोटोग्राफ्स सार्वजनिक कर दिए जाएंगे। भाईसाब, एक दिन अचानक से मृत्युंजय फिर अपनी मां और कुछ लोगों के साथ कैमरा लेकर आ धमका, जहां उसने चम्पा के साथ शादी की जिद की, उसकी मां ने कहा कि मृत्युंजय स्मार्ट है और बड़े परिवार से है, इसीलिए चम्पा को उससे शादी कर लेनी चाहिए, उन लोगों ने चम्पा के पति को बूढ़ा बताते हुए कहा कि हेमलता को मंत्री पद मिलने के बाद उन्हें भी कहीं का अध्यक्ष बना दिया जाएगा, वहां उनके साथ फिर बलात्कार किया गया। भाईसाब, शिकायत में बताया गया था कि दिसंबर 1995 में एक बार फिर मृत्युंजय पहुंचा, जहां उसने चम्पा विश्वास की मां को किचेन में देखा, इसके बाद उसने उनका जबरन आलिंगन किया और किस किया, घबराई माँ ने चम्पा से परिवार सहित वो फ़्लैट खाली करने को कहा, इसी तरह उसने चम्पा विश्वास की भतीजी कल्याणी के साथ भी रेप किया, साथ ही वो घर की मेड से कह कर बीबी विश्वास को ड्रग्स दे दिया करता था, ताकि वो बेहोश हो जाएं, चम्पा ने ये भी आरोप लगाया था कि बिहार के एक बहुत बड़े नेता ने भी उनके साथ बलात्कार किया, उनका आरोप था कि पुलिस ने भी उनके बयान को हूबहू कोर्ट में पेश नहीं किया और उसमें बदलाव कर दिया। भाईसाब, 2010 में मृत्युंजय पटना हाईकोर्ट में सजा के खिलाफ अपील करता है और पटना हाईकोर्ट ने लोअर कोर्ट के फैसले को पलट दिया, हाईकोर्ट के जज ने दलील दी कि 2 साल तक रेप होता रहा और पीड़िता आईएएस की पत्नी चुप रहीं, उन्होंने क्यों जमाने के सामने की बातें नहीं रखी, गर्भपात क्यों कराया, नसबंदी क्यों कराई, मृत्यंजय के वकील ने कहा कि दोनों के बीच प्रेम संबंध था, चंपा शादी के लिए अड़ गई थी, ऐसा न करने पर परिवार को बदनाम करने की धमकी दी थी, ये भी कहा गया कि चंपा ने ऐसे आरोप इसलिए लगाए हैं कि ताकि वो अपने नौकरशाह पति को भ्रष्टाचार के आरोपों से बचा सके, बता दें कि सरकार की ओर से भर्ती घोटाले में डीडी विश्वास का नाम उछाला गया, किसी ने चंपा और डीडी विश्वास का साथ नहीं दिया, नतीजा यह निकला कि नेता के परिवार को हाईकोर्ट ने सभी आरोपों से बरी कर दिया.

banner

चलते-चलते भाईसाब, जानकारी दे दें कि हाईकोर्ट के फैसले के बाद चंपा और डीडी विश्वास दिल्ली आ गए, बिहार से अलग होकर जब झारखंड नया राज्य बना तो डीडी विश्वास वहीं शिफ्ट हो गए, बाद में उनका निधन हो गया, वर्तमान चंपा विश्वास बिहार, दिल्ली और झारखंड में रहने के बजाए कोलकाता में गुमनाम जिंदगी जी रहीं हैं, तो भाईसाब, ये थी जानकारी बिहार के चंपा विश्वास कांड के बारे में, आशा करते हैं यह वीडियो आपको जरूर पसंद आया होगा, मिलते हैं अगले वीडियो में, तब तक के लिए जुड़े रहें भाईसाब के साथ, और हां लाइक शेयर और सब्सक्राइब जरूर करें, धन्यवाद!

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.