Home Khavaiya सब्जियों के राजा बैंगन-आलू सबसे खराब क्यों ? | Aloo Baingan in the list of worst foods

सब्जियों के राजा बैंगन-आलू सबसे खराब क्यों ? | Aloo Baingan in the list of worst foods

0 comment
Aloo Baingan in the list of worst foods

भाईसाब, आपको जानकर आश्चर्य होगा कि आलू-बैंगन की सब्जी को दुनिया के 100 सबसे खराब खाद्य पदार्थों में शामिल किया गया है, आपको बता दें कि हाल ही में ट्रैवल गाइड ‘टेस्ट एटलस’ ने दुनिया के सबसे खराब रेटिंग वाले 100 खाद्य पदार्थों की सूची जारी की है, जिसमें भारतीय डिश आलू बैंगन भी शामिल है। आलू बैंगन को इस लिस्ट में 60वें नंबर पर रखा गया है। आलू बैंगन की सब्जी को दुनियाभर में 5 से महज 2.7 रेटिंग मिली है, दिलचस्प बात यह है कि इस लिस्ट में आलू बैंगन की सब्जी एकमात्र भारतीय व्यंजन है। आज के वीडियो में हम आलू बैंगन की बैंगर पर चर्चा करेंगे, आखिर ये सब्जी दुनिया की नजर में सबसे खराब क्यों हो गई।

भाईसाब, आपको जानना जरूरी है कि आलू बैंगन की सब्जी कई लोगों को पसंद नहीं आती है, लेकिन कई लोग इसे स्वाद के साथ खाते हैं। देश में भले ही इसे खाने वालों की तादाद ज्यादा हो, लेकिन दुनिया वालों को इसका स्वाद नहीं भाता है। इसका खुलासा एक हालिया रिपोर्ट में हुआ है, जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है। भाईसाब आपको बता दें कि टेस्ट एटलस की रिपोर्ट के अनुसार टॉप 100 वर्स्ट रेटेड फूड्स की लिस्ट में पहले नंबर पर आइसलैंड की डिश ‘हकार्ल’ है। दूसरे नंबर पर अमेरिका का रेमन बर्गर और तीसरे नंबर पर इजराइल का येरुशलमी कुगेल है, सबसे खराब रेटिंग वाले खाद्य पदार्थों का पता लगाने के लिए एक सर्वेक्षण आयोजित किया गया था, जिसके आधार पर यह लिस्ट तैयार की गई है। भाईसाब, भारतीय खाने को दुनियाभर में खूब पसंद किया जाता है और देश की कई डिश विश्व में लोगों की जुबां पर रहती हैं। यही वजह है कि 100 फूड्स की लिस्ट में भारत की सिर्फ एक डिश है। आलू बैंगन एक कॉमन सब्जी है, जिसे देश में खूब खाया जाता है। आलू, बैंगन, टमाटर, प्याज, लहसुन और कई मसालों के साथ यह डिश तैयार की जाती है। हालांकि इस सर्वेक्षण में शामिल लोगों ने आलू बैंगन को घटिया खाने के तौर पर रेट किया और इसी के आधार पर इस लिस्ट में आलू बैंगन को शामिल किया गया है। भाईसबा, इस संबंध में आपको अकबर-बीरबल का किस्सा सुनाते हैं, एक बार बादशाह अकबर को बैंगन की सब्जी बड़ी स्वादिष्ट लगी, उन्होंने बीरबल के सामने बैंगन की तारीफ की, इस पर बीरबल ने कहा, जहांपनाह, आप सही फरमाते हैं बैंगन सब्जियों का राजा है। तभी तो कुदरत ने इसके सिर पर ताज रखा है, इसके कुछ दिन बाद बादशाह को बैंगन की सब्जी का स्वाद बिल्कुल पसंद नहीं आया। इस बारे में उन्होंने बीरबल को बताया कि बैंगन बड़ी खराब सब्जी है। बीरबल ने बादशाह का मिजाज देखते हुए कहा, हुजूर इसीलिए तो यह बैंगन नहीं बल्कि बेगुन है यानी इसमें एक भी गुण नहीं है, इसमें सिर्फ बीज भरे होते हैं। भाईसाब, अकबर-बीरबल की कहानी की तरह ही विदेशी ज्यूरी की बैंगन को लेकर राय बिल्कुल गलत है, उसके सदस्य भारत आकर मसालेदार भरवां बैंगन खाकर देखें तो उंगलियां चाटते रह जाएंगे, शादी के रिसेप्शन से लेकर ढाबा, होटल, रेस्टॉरेंट में हर जगह आलू-बैंगन की सब्जी लोग चाव से खाते हैं, ब्रिटिश इंग्लिश में बैंगन को ब्रिंजल और अमेरिकन इंग्लिश में एग प्लांट कहते हैं। भाईसाब आपको पता होना चाहिए बैंगन अलग-अलग आकार के आते हैं, छोटे वाले बैंगन, बड़ा भरते का बैगन, लंबे वाले बैंगन, काले, बैंगनी, हरे बैगन, धारीदार बैंगन, सफेद लंबे बैंगन आपको सब्जी मार्केट में मिल जाएंगे, कहीं-कहीं बैंगन को भटा भी कहते हैं। भाईसाब, रही बात आलू की तो उसका गठबंधन न केवल बैंगन बल्कि हर सब्जी के साथ हो जाता है, आलू-प्याज, आलू-पालक, आलू चौलाई, दही-आलू जैसा चाहे बना लो, आलू में दम है तभी तो दम आलू बनाया जाता है, आलू की रसीली या सूखी सब्जी भी बनती है।

चलते-चलते, भाईसाब, बता जरूरी है कि भारत में इसे हरी धनिया पत्तियों से सजाकर परोसा जाता है, शायद मसालों और स्वाद की भिन्नता के कारण विदेशियों को यह स्वाद अजीब लगा, लेकिन भारत में यह सब्जी बहुत ही लोकप्रिय है, आलू-बैंगन एक लोकप्रिय भारतीय ग्रेवी डिश है जिसे देशभर में पसंद किया जाता है, इसलिए इसे सब्जियों के राजा के तौर पर भी नवाजा गया है।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.