Home Dhanda Pani अब्योम स्टार्टअप, गोरखपुर

अब्योम स्टार्टअप, गोरखपुर

by Jeet
0 comment

गोरखपुर में धंधा पानी करने की कोई कमी नहीं है लेकिन बात अगर कुछ नए धंधे की की जाए जो यहाँ शुरू हुए है, और जिसको सुन के आप अचम्भा खा जाये, तो ये कोई नई बात नहीं होगी।

बात करेंगे भारत के एक ऐसे ही स्टार्टअप की, जो अंतरिक्ष की उड़ान में अपना कदम आज़मा रहे हैं।

स्टार्टअप क्या होता है? स्टार्टअप एक नया व्यापारीक प्रयास होता है जिसमें नवीनतम तकनीक, नवाचार या आईडिया का उपयोग करके नई व्यापारीक नीतियों या मॉडल का निर्माण किया जाता है।

banner

तो आइये गोरखपुर के एक ऐसे ही स्टार्टअप अब्योम के बारे में बात करते है : अब्योम का पूरा मतलब है above and beyond vyom सामन्य भाषा में बोले तो अंतरिक्ष के पार, अब्योम गोरखपुर जिले में शुरू हुआ एक स्टार्टअप है जिसको 2020 में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय का DPIIT विभाग स्टार्ट उप के तौर पर रजिस्टर किया।

Abyom के अनुसार ये reusable रॉकेट बनाएंगे, आसान भाषा में कहा जाये तो – “पुनः इस्तेमाल करने वाला राकेट”। वैसे अब तक के राकेट जो भारत उपग्रह प्रक्षेपित करने के लिए प्रयोग करता है, उसको दोबारा प्रयोग में नहीं लाया जा सकता है क्योंकि वो अंतरिक्ष में जाने के बाद नष्ट हो जाते है और पुनः उस तरह के राकेट का निर्माण करना पड़ता है।

अब्योम का लक्ष्य – अब्योम का प्रथम लक्ष्य है कि वो सस्ती लागत और कम खर्चे में 1 ही राकेट को बार बार इस्तेमाल कर के बहुत सारे उपग्रह को पृथ्वी कि कच्छा में स्थापित कर सकें।

 

अब्योम का अगला लक्ष्य है, राकेट टेस्टिंग के लिए मोबाइल प्लेटफार्म तैयार करना। भारत में बहुत छात्र और शोधकर्ता ऐसे है जो इस क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते है लेकिन उनके पास अपने राकेट इंजन को टेस्ट करने के लिए उचित संसाधन न होने, और बजट अधिक होने के कारण वह अपने प्रयासों को आगे बढ़ाने में विफल हो जाते है। अब्योम उनके लिए यह संसाधन प्रदान करेगा कम खर्चे में और अब्योम का यह मोबाइल टेस्टिंग प्लेटफॉर्म कही भी ले जाने और ले आने में भी आसान रहेगा।

अब्योम के शोधकर्ता – अब्योम को स्थापित करने वाले जैनुल आब्दीन, बिट्स, पिलानी के छात्र रहे है और सबसे कम उम्र के अंतरिक्ष, शोधकर्ता, एब्योम के निर्देशक और सी. ई. ओ. में से एक है। उन्हें एयरोस्पेस और अनुसन्धान के क्षेत्र में चल रही समस्याओ पर चर्चा करने के लिए कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के सम्मेलनों और वेबिनरों से आमंत्रण मिला। 19 साल की उम्र में उन्होंने अब्योम को स्थापित किया। उनके इस स्टार्टअप को प्रोत्साहित करने के लिए भारत सरकार, उत्तर प्रदेश सरकार, इसरो और देश विदेश की अन्य संस्थाओं ने काफी सराहा है और इस क्षेत्र में उनके योगदान के लिए उनको अनेक पुरष्कार भी मिले है। एक युवा अन्वेषक होने के नाते, उन्हें एयरो इंडिया, ए. बी. पी., दैनिक जागरण, जैसे मंच पर भी सम्मानित किया गया है।

Abyom के बारे में और अधिक जानकारी आप इनके सोशल मीडिया के पेजेज और इनकी वेबसाइट से भी ले सकते है।

आशा है यह जानकारी आपको अपने उद्दम को आगे बढ़ने के लिए जरूर प्रेरणा देगी। ऐसे ही स्टार्टअप और अन्य उद्द्यम सम्बंधित जानकरियों के लिए बने रहे हमारे साथ।

धन्यवाद!

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.