Home Haal-khayal 55 वर्ष से कम आयु के लोगो में Heart Attack पड़ने का खतरा! | Heart Attacks in People under age 55

55 वर्ष से कम आयु के लोगो में Heart Attack पड़ने का खतरा! | Heart Attacks in People under age 55

0 comment
Heart Attacks in People under age 55

विशेषज्ञों ने Hypertension, high cholesterol और heart disease के बढ़ते Risks के बीच महत्वपूर्ण Link की जांच की है – खासकर जब ये स्थितियां 55 वर्ष की आयु से पहले विकसित होती हैं – एक recent study में जो PLOS वन पत्रिका में प्रकाशित हुआ था। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुमान के मुताबिक, दुनिया भर में 30 से 79 वर्ष की उम्र के बीच के 1.28 अरब वयस्कों को Hypertension है, जिनमें से लगभग 46% लोग अपनी बीमारी से अनजान हैं। यह खोज इस बात पर जोर देती है कि हृदय स्वास्थ्य पर Hypertension और cholesterol के प्रभावों की जांच करना कितना जरूरी है, खासकर जब इन स्थितियों की पहचान जीवन के शुरुआती दिनों में ही हो जाती है।

प्रतिभागियों के 3-Sample randomisation analysis का उपयोग करके आयोजित अध्ययन का उद्देश्य high cholesterol (LDL-C), elevated systolic blood pressure (SBP), and coronary heart disease (CHD) के बीच Link को समझना था। विश्लेषण किए गए 296,131 प्रतिभागियों में से, Researchers ने तीन अलग-अलग Groups की पहचान की: high cholesterol (136,648 व्यक्ति), elevated systolic blood pressure (135,431 व्यक्ति), और coronary heart disease (24,052 व्यक्ति)।

अनियंत्रित Hypertension severe complications का कारण बन सकता है, विशेष रूप से heart और kidneys को प्रभावित करता है। अत्यधिक दबाव के परिणामस्वरूप hardened arteries हो सकती हैं, Heart में Blood और Oxygen का प्रवाह कम हो सकता है और सीने में दर्द (angina), chest pain (angina), heart attacks, heart failure, और irregular heartbeats हो सकती है। Hypertension Brain को Blood और Oxygen की Supply करने वाली Arteries को भी नुकसान पहुंचा सकता है, जिससे Stroke हो सकता है। Kidney damage और failure, और uncontrolled hypertension से जुड़ी additional complications हैं।

सुझाव:

banner

1. स्वस्थ आहार बनाए रखें: हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए कम Sodium और Potassium से भरपूर आहार लें।

2. नियमित शारीरिक गतिविधि: वजन को नियंत्रित करने, Blood Pressure को कम करने और समग्र हृदय स्वास्थ्य में सुधार के लिए नियमित व्यायाम में Engage रहें।

3. धूम्रपान से बचें और शराब सीमित करें: धूम्रपान और अत्यधिक शराब का सेवन उच्च रक्तचाप और हृदय रोग में योगदान देता है।

4. तनाव को प्रबंधित करें: भावनात्मक कल्याण को बढ़ावा देने के लिए ध्यान या योग जैसी तनाव कम करने वाली तकनीकों को अपनाएं।

5. नियमित जांच: नियमित रूप से Blood Pressure और cholesterol के स्तर की निगरानी करें, और consult के लिए healthcare professionals से guidance लें।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.