Home Gali Nukkad उत्तर प्रदेश में बाढ़ से 2 लाख लोगो के साथ 23 जिले प्रभावित।

उत्तर प्रदेश में बाढ़ से 2 लाख लोगो के साथ 23 जिले प्रभावित।

0 comment

उत्तर प्रदेश में मौसम की चिंता बढ़ गई है, क्योंकि 23 जिलों में बाढ़ का प्रभाव दिखाई दे रहा है। राज्य सरकार के आंकड़ों के अनुसार, इन जिलों के 601 गांवों में लगभग 2 लाख लोग बाढ़ के प्रभाव में हैं।
राहत आयुक्त की बात – राहत आयुक्त श्री जीएस नवीन कुमार ने बताया कि बाढ़ प्रभावित जिलों के जिलाधिकारियों को कृषि भूमि के जलमग्न होने, फसलों की बर्बादी का सर्वेक्षण करने, और सरकार को रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है।
जिलों की बाढ़ आश्रय स्थलों की संख्या – सरकार ने बताया कि इन जिलों में 1,101 बाढ़ आश्रय स्थल और 1,504 बाढ़ चौकियां स्थापित की गई हैं, जबकि 2,135 चिकित्सा टीमें बाढ़ प्रभावित गांवों में भेजी गईं।राहत चौपाल का आयोजन – राजस्व विभाग ने बाढ़ संभावित जिलों में 5,014 स्थानों पर ‘राहत चौपाल’ का आयोजन किया है।नदियों का स्तर – सिंचाई विभाग के अनुसार, रामगंगा नदी शाहजहाँपुर में और घाघरा नदी बलिया में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।बारिश की ताजा स्थिति – पिछले 24 घंटों में किसी भी जिले में 30 मिमी या उससे अधिक बारिश नहीं हुई, जबकि यूपी में पिछले 24 घंटों में औसतन 1.4 मिमी बारिश हुई, जो सामान्य बारिश 4.8 मिमी का 29% था।मौसम का संकेत – राज्य में 1 जून से अब तक औसतन 495.9 मिमी बारिश हुई, जो सामान्य बारिश 588.1 मिमी का 84% था। इसका मतलब है कि मौसम में कमी हो रही है, जो किसानों के लिए चिंता का कारण बन सकती है।
उत्तर प्रदेश में बाढ़ से लोग प्रभावित, बचाव की तैयारियां जारी
उत्तर प्रदेश में बाढ़ के कारण 23 जिले प्रभावित हो रहे हैं, जिसके परिणामस्वरूप करीब 600 गांवों में दो लाख लोग प्रभावित हो गए हैं। राज्य सरकार के अनुसार, बाढ़ के प्रभावित क्षेत्रों में कुछ फार्महाउसेस भी हवाई दृश्य में दिख रहे हैं।
यूपी में बाढ़ के प्रभावित जिलों की सूची में शामिल हैं: अमरोहा (45 गांव), आज़मगढ़ (8), बलिया (1), बाराबंकी (4), बस्ती (6), बिजनौर (30), बदायूँ (27), फर्रुखाबाद (115), फ़तेहपुर (4), गोंडा (23), गोरखपुर (4), हरदोई (55), कन्नौज (9), कानपुर (3), कासगंज (57), लखीमपुर खीरी (26), कुशीनगर (1), मऊ (3), मेरठ (40), मुज़फ़्फ़रनगर (40), शाहजहाँपुर (14), सीतापुर (6), और उन्नाव (80 गाँव)।
सरकार ने इससे पहले ही बाढ़ प्रभावित जिलों में बचाव की तैयारियां जारी की हैं, जैसे कि 1,101 बाढ़ आश्रय स्थल और 1,504 बाढ़ चौकियां स्थापित की गई हैं।
सरकार ने राहत चौपाल का आयोजन भी किया है, जिसमें बाढ़ प्रभावित जिलों में 5,014 स्थानों पर राहत चौपाल का आयोजन हो रहा है।
सिंचाई विभाग के अनुसार, रामगंगा नदी शाहजहाँपुर में और घाघरा नदी बलिया में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।
सरकार के अनुसार, यूपी में पिछले 24 घंटों में औसतन 1.4 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य बारिश 4.8 मिमी का 29% है। सामान्य मौसम सीजन की शुरुआत के बाद से 12 जिलों में 40% से कम बारिश दर्ज की गई है।
जुड़े रहिए इसी तरह की लेटेस्ट Updates के लिए Bhaisaab के साथ ।

You may also like

bhaisaab logo original

About Us

भाई साब ! दिल जरा थाम के बैठिये हम आपको सराबोर करेंगे देशी संस्कृति, विदेशी कल्चर, जलेबी जैसी ख़बरें, खान पान के ठेके, घुमक्कड़ी के अड्डे, महानुभावों और माननीयों के पोल खोल, देशी–विदेशी और राजनीतिक खेल , स्पोर्ट्स और अन्य देशी खुरापातों से। तो जुड़े रहिए इस देशी उत्पात में, हमसे उम्दा जानकारी लेने और जिंदगी को तरोताजा बनाए रखने के लिए।

Contact Us

Bhaisaab – All Right Reserved. Designed and Developed by Global Infocloud Pvt. Ltd.